बैंक अधिकारी , क्लर्क ,की परीक्षा की तयारी कैसे करें

प्रति वर्ष , लगभग एक करोड़ उम्मीदवार बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान (आईबीपीएस) द्वारा आयोजित परीक्षाओं के लिए पंजीकरण करते हैं, जिनमें से 60-70% उम्मीदवार वास्तव में आईबीपीएस के अनुसार इसके लिए उपस्थित होते हैं।

वर्ष 2020-21 के दौरान, लगभग 50 लाख उम्मीदवारों ने विभिन्न आईबीपीएस परीक्षाओं के लिए पंजीकरण किया, COVID-19 महामारी के कारण 2019-20 की तुलना में उम्मीदवारों की संख्या कम रही थी । 

बैंकिंग परीक्षा की तैयारी करते समय कुछ महत्वपूर्ण बातों का ध्यान रखना चाहिए।।

बैंकिंग क्षेत्र, जो देश की अर्थव्यवस्था का समर्थन करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, आरबीआई और एसबीआई में लिपिक और परिवीक्षाधीन अधिकारी (पीओ) पदों के लिए  हर साल विभिन्न भर्ती परीक्षा आयोजित करते हैं।

बैंक परीक्षाओं की तैयारी एक सप्ताह या एक महीने का काम नहीं है। परीक्षा को क्रैक करने के लिए आमतौर पर कुछ महीनों या कम से कम १ साल  के लिए पूर्ण  समर्पण की आवश्यकता होती है।

कोई प्रतियोगी  कोचिंग क्लास लेना पसंद करता है तो कोई खुद पढ़ाई करना पसंद करता है। “कोचिंग केंद्रों से तैयारी करना उम्मीदवारों के लिए बहुत मददगार हो सकता है क्योंकि इन कोचिंग केंद्रों में एक क्रैश कोर्स होता है, जिसमें उम्मीदवारों को बैंक परीक्षा के प्रश्न पत्रों को गति और सटीकता के साथ हल करने के लिए शॉर्टकट और ट्रिक्स के साथ प्रशिक्षित किया जाता है। हालाँकि, स्व-अध्ययन, ऑनलाइन परामर्श आदि भी बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसलिए, उम्मीदवारों के लिए बिना कोचिंग के भी परीक्षा देना संभव है, । 

यंहा पर  कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट दिए जा रहे है , जिन्हें प्रतियोगी  को बैंक परीक्षा की तैयारी करते समय अवश्य   दिमाग  में रखना चाहिए।।

  1. अध्ययन योजना

स्टडी प्लान एक ऐसी चीज है, जिसे हम सभी बनाते हैं लेकिन उस पर टिके नहीं रहते। आईबीपीएस परीक्षाओं के लिए, एक अध्ययन योजना बनाना काफी आवश्यक है क्योंकि इससे आपको स्पष्ट संकेत मिलता है कि आपने कितना पाठ्यक्रम कवर किया है। एक अध्ययन योजना आपको तनाव के स्तर को कम करने में भी मदद कर सकती है, जो परीक्षा के दबाव के कारण बनता  है। 

  1. नियमित परीक्षण करें

एक आकांक्षी को हमेशा अपनी गति बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और ऐसा करने का एकमात्र तरीका नियमित मॉक टेस्ट देना है। यह न केवल आपकी गति को बढ़ाएगा,बल्कि बहुत ही  कम समय में कठिन  प्रश्नो  को हल करने की आपकी क्षमता को भी और  बढ़ाएगा।  

3 अपनी अध्ययन सामग्री और संसाधनों को बुद्धिमानी से चुनें

अध्ययन के लिए हमेशा पुस्तकों, अध्ययन सामग्री का चयन करने की सिफारिश की जाती है जिसमें उचित मात्रा में प्रासंगिक जानकारी हो। तैयारी के लिए सर्वोत्तम और विश्वसनीय स्रोतों का उपयोग करना चाहिए। 

  1. कमजोर क्षेत्रों पर काम करें

एक आकांक्षी को अपने कमजोर क्षेत्रों को जानना चाहिए और उन्हें अन्य विषयों / क्षेत्रों की तुलना में थोड़ा अधिक ध्यान देना चाहिए। 

  1. समय प्रबंधन

परीक्षा की तैयारी या परीक्षा देते वक़्त  समय का प्रबंधन सबसे महत्वपूर्ण पहलू है। तैयारी करते समय, प्रत्येक विषय और अनुभाग पर खर्च किए जाने वाले समय की योजना भी बनानी चाहिए। साथ ही, परीक्षा का प्रयास करते समय, प्रत्येक अनुभाग के लिए अधिकतम प्रश्नों को हल करने के लिए समय को विभाजित करना चाहिए।

  1. संशोधन

प्रत्येक विषय के उचित पुनरीक्षण के बिना तैयारी प्रक्रिया अधूरी है। एक त्वरित संशोधन के लिए, महत्वपूर्ण विषयों पर संक्षिप्त नोट्स बना सकते हैं। रिवीजन से आपको अपने टॉपिक्स को अच्छी तरह से याद करने में मदद मिलेगी। आप जितना ज्यादा रिवीजन करेंगे आपकी तैयारी उतनी ही बेहतर होगी। 

  1. सकारात्मक रहें

एक नकारात्मक सोच या मानसिकता आपकी परीक्षा और आपके भविष्य को बुरी तरह प्रभावित कर सकती है। इसलिए, अपनी एकाग्रता में सुधार करने के लिए हमेशा  शांत और सकारात्मक रहना महत्वपूर्ण है। गति को सही रास्ते पर बनाए रखने के लिए कोई भी योग और ध्यान कर सकता है।

लाखों छात्र परीक्षा के लिए उपस्थित होते हैं, लेकिन उनमें से बहुत कम ही उत्तीर्ण हो पाते हैं। इसके पीछे एक बड़ा कारण आपकी तैयारी की योजना और एक शानदार रणनीति की कमी हो सकती है। 

कोई अपनी तैयारी की रणनीति कैसे बना सकता है, इस पर कुछ सुझाव दिए गए हैं:

अपने सपनों की नौकरी पाने के लिए अपनी तैयारी जल्दी शुरू करें।

 रीजनिंग , क्वांट,और अंग्रेजी के अपने नॉलेज  को फिर से ( रिवीजन ) देखने के लिए कुछ महीने का समय दे ।।

अपनी गति और सटीकता में सुधार करने के लिए बहुत सारे अनुभागीय और मॉक टेस्ट का अभ्यास करें।

परीक्षा में वेल परफॉर्म करने के लिए   एक शानदार  रणनीति अवश्य  बनाएं।

चूंकि प्रत्येक खंड को अलग-अलग समय दिया गया है, इसलिए प्रत्येक खंड के लिए प्रश्नों को हल करने के पूर्व-निर्धारित क्रम का पालन करना चाहिए ताकि स्कोर को अधिकतम किया जा सके। 

यदि उपरोक्त बातों को ध्यान में रख कर और आत्मविश्वास से लबरेज हो कर आप परीक्षा देंगे तो यकीं मानिये निश्चित ही क्रेक कर जायेंगे । आप सभी को अपने उज्जवल भविष्य की बहुत बहुत शुभ कामनाएं । 

बैंक अधिकारी परीक्षाबैंक क्लर्क परीक्षा ,    IBPS ExamsSBI PO/ClerkProbationary Officer exam

Leave a Reply

Your email address will not be published.