Home Entertainment टॉयलेट एक प्रेम कथा

टॉयलेट एक प्रेम कथा

written by Atul Mahajan July 5, 2017

आशिकों ने तो आशिकी के लिए ताजमहल बना दिया, साला हम एक संडास ना बना सके’ — टॉयलेट एक प्रेम कथा

आईये  कुछ  बात करते हैं अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर की आने वाली फिल्‍म ‘टॉयलेट: एक प्रेम कथा एक आगामी हिन्दी फ़िल्म है जिसका निर्देशन श्री नारायण सिंह ने किया है। यह एक हास्य-व्यंग्य फिल्‍म है जो ग्रामीण इलाकों में  स्वछता के महत्‍व जैसे गंभीर मुद्दे पर प्रकाश डालती है। फिल्‍म की कहानी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के  स्वछ भारत अभियान से प्रेरित दिखाई देती है ।

अभिनेता अक्षय कुमार को उम्मीद है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘स्वच्छ भारत अभियान’ पर आधारित उनकी आगामी फिल्म ‘टॉइलेट-एक प्रेम कथा’ खुले में शौच की समस्या के बारे में दर्शकों को जरूर  जागरूक करेगी.  फिल्म खुले में शौच के बारे में बात करती है और अक्षय का मानना है कि भारत में यह सबसे बड़ी समस्याओं में एक है और इसे छिपाने की बजाए इस पर बात होनी ही  चाहिए ।

अक्षय ने यहां एक कार्यक्रम में संवाददाताओं से कहा, ‘यह मुद्दा है, जिस कारण मैं फिल्म :टॉइलेट-एक प्रेम कथा: के जरिए इसकी बात कर रहा हूं और हमें इससे क्यों भागना चाहिए. यह हमारी सबसे बड़ी समस्याओं में से एक है । भारत में डायरिया के कारण प्रतिवर्ष हजारो बच्चों की मौत हो जाती है ।

आपको बता दें कि यह फिल्म एक ओर तो प्रधानमंत्री के ‘स्वच्छ भारत’ अभियान को समर्थन करती है तो दूसरी ओर सफाई का ध्यान नहीं रखने वालों के लिए चुभते व्यंग्य के बीच दर्शकों को हास्य परोसती है ।

देखते है फिल्म की   छोटी सी  कहानी   बहुत ही  कम  शब्दों में  

अक्षय कुमार जो फिल्‍म में केशव का किरदार निभा रहे हैं. केशव केवल एक ही सपना देखता है, अपनी शादी का । उसके बाद उसकी मुलाकात होती है जया यानी भूमि पेडनेकर से और फिर दोनों को प्‍यार हो जाता है । एक ओर जहां केशव बेहद भोला शख्‍स है वहीं जया खुले विचारों वाली और आगे की सोच रखने वाली लड़की है l सब सही चल रहा होता है लेकिन केशव से शादी के बाद जैसे ही जया को पता चलता है कि उसे खुले में शौच जाना होगा तो सब बदल जाता है. उसके बाद वह केशव के साथ मिलकर लड़ाई लड़ती है । सभी तरह की परेशानियों से लड़ते हुए केशव और जया अपने परिवार की सोच में बदलाव लाने का प्रयास करते हैं और खुले में शौच और स्वछता के मुद्दे पर राजनीतिक लड़ाई भी लड़ते हैं ।

यंहा हम ये बता दें कि यह एक व्यंग्यात्मक मूवी है, जो कि भारत सरकार के ‘स्वच्छ भारत अभियान’ से प्रेरित  है। फिल्म में देशवासियों के लिए टॉयलेट के महत्व को बताया गया है। वायकॉम मोशन पिक्चर्स के बैनर तले बनी इस फिल्म के डायरेक्टर नारायण सिंह है। फिल्म में अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर के अलावा अनुपम खेर और सना खान भी हैं। यह 11 अगस्त को जन्मास्टमी के आसपास  रिलीज होगी।  हमारी शुभ कामनाएं  फिल्म के साथ है   फिल्म बेहतर प्रदर्शन भी करे तथा समाज को नई दिशा प्रदान करने में  मदद भी करे ।  

You may also like

1 comment

Polacy January 22, 2018 at 9:19 pm

Good Movie for youth

Reply

Leave a Comment

Loading...