Home Sports पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी

पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी

written by Atul Mahajan September 14, 2017

सुरक्षा के लिहाज से Pakistan अभी भी पूरी तरह सुरक्षित नहीं माना जा सकता। आए दिन अभी भी Pakistan के अलग-अलग जगह धमाकों की खबरें आती रहतीं हैं और ऐसे में किसी भी टीम को पाकिस्तान में जाकर खेलने का जोखिम मोल नहीं लेना चाहिए | हालांकि Pakistan की सरकार और Pakistan Cricket Board कई बार ये ऐलान कर चुके हैं कि अब Pakistan आतंक मुक्त हो चुका है और पाकिस्तान अब विदेशियों के लिए बिल्कुल सुरक्षित है।

लेकिन सही मायनो में Pakistan में आंतरिक युद्ध जैसे हालात हैं और वहाँ धमाके होना आम है। आतंकी संगठनों के कई आका पाकिसतान की पनाह में रहते हैं और ऐसे में खुदा ना खास्ता की साल 2009 आतंकी हमले जैसा कोई हादसा फिर से हो जाता तो इससे क्रिकेट के खेल को भारी नुकसान हो सकता था। ऐसे में जब तक Pakistan में हालात पूरी तरह से सुरक्षित नहीं हो जाते तब तक पाकिस्तान में क्रिकेट खेलना किसी भी लिहाज खतरे से खाली नहीं बोल सकते है।

3 मार्च सन 2009 यही वो तारीख है जब पाकिस्तान की सरजमीं पर श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर आतंकी हमला हुआ। लाहौर में सरे-आम 12 आतंकियों ने श्रीलंका क्रिकेट टीम की बस पर धावा बोल दिया, जिसमें 6 खिलाड़ी जख्मी हो गए और कई सुरक्षाकर्मी मारे गए। इस हमले के बाद हर अंतर्राष्ट्रीय टीम ने पाकिस्तान जाने से इनकार कर दिया था। 8 साल बाद पाकिस्तान में एक बार फिर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट का आगाज हो रहा है। आईसीसी की वर्ल्ड इलेवन टीम लाहौर में ही पाकिस्तान के खिलाफ T20 सीरीज के मैच खेल रही है। इस मैच का विजेता कोई भी हो लेकिन इससे बड़ी बात ये है कि 9 साल बाद Pakistan में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी हो रही है और जीत किसी टीम की नहीं बल्कि इस महान खेल की हो रही है। हांलाकि  इस  वर्ल्ड इलेवन में भारत शामिल नहीं है  ।

T20 क्रिकेट की बात करें तो Pakistan टीम भी बेहद ही मजबूत नजर आती है। उसके पास फखर जमां जैसा विस्फोटक ओपनर है तो वहीं मिडिल ऑर्डर में बाबर आजम, शोएब मलिक और कप्तान सरफराज अहमद जैसे जबर्दस्त बल्लेबाज हैं। गेंदबाज़ी में तो पाकिस्तान की टीम का कोई जवाब नहीं। उसके पास इमाद वसीम और शादाब खान जैसे टैलेंटेड स्पिनर्स हैं और साथ ही हसन अली, सोहेल खान और रूमान रईस जैसे तेज गेंदबाज़ी हैं जो कि किसी भी बल्लेबाज को परेशान कर सकते हैं। पाकिस्तान ने अपने इन्हीं खिलाड़ियों के दम पर इंग्लैंड में चैंपियंस ट्रॉफी पर कब्जा किया था जिसमें उसने फाइनल में टीम इंडिया जैसी मजबूत टीम को मात दी थी।

World XI Team में भी एक से बढ़कर एक खिलाड़ी हैं। फाफ डु प्लेसी, हाशिम आमला, पॉल कॉलिंगवुड, डेविड मिलर, डैरेन सैमी, मॉर्ने मॉर्कल और इमरान ताहिर जैसे गजब के खिलाड़ियों से लैस वर्ल्ड इलेवन की टीम किसी को भी धराशायी कर सकती है। इससे साफ है पाकिस्तान और वर्ल्ड इलेवन के बीच मुकाबला ज़ोरदार हो रहा है ।

उम्मीद है कि यह सप्ताह क्रिकेट के एक महान देश में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की एक नई और सफल शुरुआत का गवाह बनेगा। ‘ पाकिस्तान और विश्व एकादश के बीच 12, 13 और 15 सिंतबर को लाहौर में तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेली जाएगी। एक मैच पाकिस्तान ने जीता तथा दूसरा मैच विश्व एकादश ने जीता। एक मैच  15 सिंतबर को होना बाकी  है ।

You may also like

Leave a Comment

Loading...