Home Entertainment “मेरी बेटी सन्नी लिओन बनना चाहती है ” मै क्या सन्देश देना चाहता हैं ये फिल्म निर्माता

“मेरी बेटी सन्नी लिओन बनना चाहती है ” मै क्या सन्देश देना चाहता हैं ये फिल्म निर्माता

written by Atul Mahajan June 20, 2017

हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘सरकार 3’ के बाद डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा ने अपनी शॉर्ट फिल्म ‘मेरी बेटी सन्नी लियोनी बनना चाहती है’ रिलीज की।

इस शॉर्ट फिल्म में निर्माता रामगोपाल वर्मा एक ऐसी लड़की के बारे में बताते है, जो एक पोर्न स्टार बनना चाहती है, लेकिन उसके माता-पिता से एक मजबूत विरोध का सामना करना पड़ता है। माता-पिता और बेटी के बीच लिविंग रूम की बातचीत सनी लियोन को पार करती है और व्यक्तिगत विकल्पों, दमन और आजादी के विषयों की खोज करती है। यह अनिवार्य रूप से एक व्यक्ति को अपने या अपने तरीके से जीवन जीने की पसंद का सम्मान करने के बारे में है। लेकिन यहा  निर्माता ने यह नहीं दर्शाया की उक्त लड़की सन्नी लिओन  बनने का प्रयास करती है , और वह यहाँ तक नहीं पहुँच पाए तो उसका परिणाम क्या होगा |

 नाटक और फिल्मे समाज को नई दिशा दिखने के लिए होती है ना की समाज को दिग्भर्मित करने के लिए  l  उक्त शार्ट फिल्म में निर्माता समाज को क्या सन्देश देना चाहता है , समझ से परे है , लेकिन इसमें दर्शाये गए संवाद भारतीय संस्कृति के विपरीत है |  जैसे  ( 1 संवाद )

यदि आप एक असिस्टेंट मैनेजर हो सकते हैं, तो मैं एक पॉर्नस्टार क्यों नहीं हो सकती ? उसका काम लाखों लोगों को लुभाने वाली खुशी प्रदान करना है।

जब एक नाराज पिता अपनी बेटी को पूछता है कि वह अपने शरीर को क्यों  बेचना चाहती है, तो बेटी की सोच देखिए , (2 संवाद ) ‘इस दुनिया में हर कोई कुछ बेच रहा है। कुछ अपनी कला बेचते हैं, दूसरों को अपनी कड़ी मेहनत बेचते हैं सनी लियोन सेक्स अपील बेचती है जीवन के लिए एक सरल नियम है: यदि आप कुछ कमाना चाहते हैं, तो आपको कुछ बेचना पड़ेगा ।

मेरी बेटी सन्नी लिओन बनना चाहती है

यूट्यूब पर अवेलेबल है  यह फिल्म देख चुके कई लोगों ने इसे शर्मसार करने वाला भी बताया है।समाज को असहज करने वाले कई सवाल उठाती है।  फिल्म में पॉर्नस्टार बनने की चाहत रखने वाली लड़की को जब माता-पिता के विरोध का सामना करना पड़ता है, तो वह सनी लियोनी का उदाहरण देती है और अपने पैरंट्स के तमाम सवालों के जवाब भी देती है।

फिल्म में बंद कमरे के अंदर माता-पिता और उसकी बेटी के बीच की बातचीत को दिखाया गया है। रामगोपाल वर्मा का नाम सनी लियोनी के साथ इससे पहले तब जुड़ा था जब उन्होंने सोशल मीडिया पर सनी के नाम के साथ एक ट्वीट किया था।राम गोपाल वर्मा ने जो की इस फिल्म का निर्माता है  महिला दिवस के मौके पर ट्वीट किया था कि वह चाहते हैं कि सभी महिलाएं अपने पतियों को उसी प्रकार सुख दें जैसे सनी लियोनी दे रही हैं।  और इसी  ट्वीट के कारण राम गोपाल वर्मा  को टिव्टर से भागना पड़ा  था । भारतीय समाज को , युवा वर्ग को पता नहीं अब इस फिल्म के द्वारा क्या सन्देश देना चाहते है , राम गोपाल वर्मा ये तो इस फिल्म के निर्माता ही जनते हैं ।

हमारा इस लेख से कोई व्यक्तिगत रूप से किसी भी प्रकार का कोई लेना देना नहीं है । यहा हम निर्माता की विचारधारा या सोच को बताने का प्रयास कर रहे है । यदि आप हमारे लेख से सहमत हो तो हमसे अपने विचारो को साझा करे |

You may also like

Leave a Comment

Loading...