Home Information हिमाचल का भाग्य इ.वि.एम्. में कैद

हिमाचल का भाग्य इ.वि.एम्. में कैद

written by Atul Mahajan November 10, 2017
Himachal Pradesh Assembly election

हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2017 (Himachal Pradesh Assembly election 2017) के लिए 68 सीटों के लिए गुरुवार को सिंगल फेज में वोट डाले  गए हैं। । नतीजों का एलान 18 दिसम्बर 2017 को होगा। इस चुनाव में 337 कैंडिडेट्स मैदान में उतरे हैं, इनमें से 62 मौजूदा विधायक हैं। 50, 25, 941 वोटर्स हैं। इलेक्शन में बीजेपी की ओर से प्रेम कुमार धूमल (Prem Kumar Dhumal) सीएम कैंडिडेट हैं, जो सुजानपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। कांग्रेस की ओर से चेहरा मौजूदा सीएम वीरभद्र सिंह (Virbhadra Singh) हैं, जो अर्की से चुनाव लड़ रहे हैं। पिछली बार 73.4% वोटिंग हुई थी।

हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2017 (Himachal Pradesh Assembly election) के लिए सुबह 8 बजे से वोटिंग शुरू हुई जोकि शाम 5 बजे समाप्‍त होने तक 75.0 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। प्रेम कुमार धूमल (Prem Kumar Dhumal) ने दावा किया कि हमारा लक्ष्य 50 से अधिक सीटें पाने का था, अब 60 हमें लगता है हम 60 का आंकड़ा पार कर सकते हैं। वीरभद्र (Virbhadra Singh) ने भी जीत का भरोसा जताते हुए कहा है कि अगली सरकार भी कांग्रेस की ही होगी और हमें बहुमत प्राप्त होने का पूरा भरोसा है।

धूमल के बेटे और हमीरपुर से सांसद अनुराग ठाकुर ने कहा, “अब वक्त आ गया है। लोगों ने हिमाचल को लूटने वाली कांग्रेस को बाहर करने का मन बना लिया है। प्रदेश को धूमल जी जैसे सीनियर लीडर की ज़रूरत है। हिमाचल राज्य पर 50 हजार करोड़ से ज़्यादा का कर्ज है।”

Himachal Pradesh Assembly election

हिमाचल में कांगड़ा को किंग मेकर माना जाता है क्योंकि कांगड़ा में 15 विधानसभा सीटें हैं। ऐसा मन गया है कि 1985 से 2012 तक यहाँ जिस पार्टी के कैंडिडेट जीते, सरकार भी उसी पार्टी की बनी। पिछले तीन चुनावों की बात करें तो 2003 में यहाँ की 15 सीटों में से 11 पर कांग्रेस को जीत मिली और प्रदेश में सरकार भी उसी की बनी। 2007 में बीजेपी को यहाँ 9 सीटें मिलीं और उसने सरकार बनाई. 2012 के इलेक्शन में कांग्रेस को 10 सीटें मिलीं, बीजेपी 3 और इंडिपैंडेंट को 2 सीटें मिली थीं।

हिमाचल विधानसभा चुनाव 2017 (Himachal Pradesh Assembly election 2017)  से पहले 12 दिन लम्बे चले इलेक्शन कैम्पेन में 450 से भी कई ज़्यादा रैलियां हुईं। बीजेपी ने कांग्रेस से लगभग 80% ज़्यादा रैलियां कीं। यानी की बीजेपी ने 197 और कांग्रेस ने 110 रैलियां कीं। बीजेपी की ओर से नरेंद्र मोदी, अमित शाह, राजनाथ सिंह, जेपी नड्डा, स्मृति ईरानी और आदित्यनाथ स्टार कैम्पेनर रहे। वहीं, कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी के अलावा, आनंद शर्मा और विप्लव ठाकुर ने कैम्पेनिंग का मोर्चा संभाला।

हिमाचल राज्य में  लगभा 7521 पोलिंग स्टेशन बनाये गए थे  और  कुल मतदाता- 50,25,९४१  हैं  तथा  कुल पुरुष मतदाता  – 25,31,321   हैं , महिला मतदाता  – 24,57,032  कुल सर्विस वोटर – 37,574  तथा 14  मतदाता

अपने मताधिकार का उपयोग कर सकते  थे । 11वीं बार विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं कांग्रेस के मनसा राम। पहली बार सन 1967 में कारसोग से चुनाव जीते थे। तकरीबन 19 महिला कैंडिडेट चुनाव लड़ रही हैं। बीजेपी से 6 और कांग्रेस से 3 कैंडिडेट हैं।

158 कैंडिडेट यानी 47% उम्मीदवार करोड़पति हैं।

You may also like

Leave a Comment

Loading...