Home Celebrity अरिजीत सिंह – भारतीय पाश्र्व गायक

अरिजीत सिंह – भारतीय पाश्र्व गायक

written by Atul Mahajan July 27, 2017

अरिजीत सिंह वर्तमान में ये नाम भारतीय संगीत का जाना पहचाना नाम है अरिजीत सिंह ने भारतीय पाश्व गायकी में अपना अलग स्थान बनाया है | अरिजीत का जन्म जियागंज के मुर्शीदाबाद, पश्चिम बंगाल में 25 अप्रैल 1987 को हुआ था। उनके पिता पंजाबी और उनकी माँ बंगाली हैं। उनके संगीत की शुरूआती ट्रेनिंग उनके घर से ही हुई  उनकी दादी गायन करतीं और उनकी आंटी भारतीय क्लासिकल संगीत में प्रशिक्षित हैं। उन्होंने संगीत अपनी माँ से भी सीखा जो कि गायन के साथ-साथ तबला वादन भी करती हैं। अरिजीत सिंह भारतीय पाश्र्व गायक और म्यूजिक कम्पोज़र हैं। वे आज की जेनरेशन के गायकों में से एक हैं। फ़िल्म आशिकी 2 में गाए गए उनके गाने तुम ही हो के बाद से वे जाना माना नाम बन गए. अरिजीत के मुताबिक, गायक होने के साथ-साथ वे बैडमिंटन प्लेयर, राइटर, मूवी फ्रीक और डाॅक्युमेंट्री मेकर भी हैं। पापुलर होने के बावजूद ना ही वे ज़्यादा इंटरव्यू देते हैं ना ही उन्हें फोटो खिंचाना पसंद है। सितंबर 2013 में सिंह को गिरफ़्तार भी किया गया जब उन्होंने पत्रकार अपूर्वा चौधरी से बदसलूकी की क्योंकि उसने सिंह से उनके तलाक के बारे में पूछ लिया था। उन्हें कई बार कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया जा चुका है।

सन 2005 में उन्होंने राजेंद्र प्रसाद हजारी के कहने पर एक रियलिटी शो फेम गुरूकुल का आॅडीशन दिया क्योंकि उन्हें लगता था कि क्लासिकल संगीत की परंपरा खत्म हो रही है। उस मौके का इस्तेमाल करने के लिए पहले तो सिंह झिझक रहे थे लेकिन बाद में उन्होंने इसमें भाग लिया। इसमें कंपोजर शंकर महादेवन जूरी पैनल में थे और उनका क्लासिकल बैकग्राउंड था। हालांकि, अरिजीत फाइनल में यह शो हार गए लेकिन इसके बाद उन्होंने एक अन्य रियलिटी शो 10 के 10 ले गए दिल में हिस्सा लिया जो कि संगीत का ही शो था और इसमें फेम गुरूकुल और इंडियन आइडल के विजेताओं के बीच मुकाबला था। शो जीतने के बाद, सिंह ने अपना खुद का रिकाॅर्डिंग सेटअप तैयार किया और म्यूजिक प्रोग्रामिंग के साथ अपनी यात्रा शुरू की। उसके बाद, उन्होंने असिस्टेंट म्यूजिक प्रोग्रामर के तौर पर शंकर-एहसान-लाॅय, विशाल-शेखर और मिथुन के साथ काम किया। उस समय, महादेवन ने अरिजीत को मनाया कि वे उनके द्वारा बनाए गए गाने को अपनी आवाज दें लेकिन अरिजीत यह कहते हुए मना कर दिया कि उन्हें एक ‘पापुलर वाॅयस’ बनना है जिसके बाद महादेवन ने अन्य गायक के साथ उस गाने को डब किया |

2010 में अरिजीत ने प्रीतम चक्रवर्ती के साथ तीन फ़िल्मों में करना शुरू किया जिसमें गोलमाल 3, क्रुक और एक्शन रीप्ले जैसी फ़िल्में शामिल हैं। 2011 में सिंह ने अपना बाॅलीवुड म्यूजिक डेब्यू मिथुन के बनाए गाने ‘फिर मोहब्बत’ जो कि मर्डर 2 का गाना है, के साथ किया। यह गाना 2009 में ही रिकाॅर्ड हुआ था लेकिन रिलीज 2011 में हुआ। इसके बाद उन्होंने फ़िल्म एजेंट विनोद के गाने राबता को गाया। एजेंट विनोद के अलावा, सिंह ने प्रीतम के लिए तीन अन्य फ़िल्मों में भी गाने डब किए जिसमें प्लेयर्स, काॅकटेल और बरफी जैसी फ़िल्में शामिल हैं।

सन 2014 में अरिजीत को अपने दो पसंदीदा म्यूजिक डायरेक्टरों साजिद-वाजिद और ए आर रहमान के साथ काम करने का मौका मिला। उन्होंने फ़िल्म मैं तेरा हीरो में दो गाने गाए और हीरोपंती का ‘रात भर’ भी गाया। इसके अलावा उनके कई अन्य गाने जैसे समझांवां, हमदर्द, मनवा लागे, मुस्कुराने की वजह, सुनो ना संगमरमर, मस्त मगन जैसे गाने गाए जो कि सुपरहिट रहे और चार्टबस्टर्स में भी छाए रहे। यह सब गाने लोगों की जुबान पर चढ गए और अरिजीत नई बुलंदियों पर चढ़ गए | इसके बाद 2015 में उन्होंने राॅय फ़िल्म का सूरज डूबा है और खामोशियां का टाइटल ट्रेक और ‘बातें ये कभी ना’ गाया।

You may also like

Leave a Comment

Loading...